पुलवामा स्कूल में विस्फोट: ‘कक्षा 10 के लड़के ने किया विस्फोटक पदार्थ’, 16 छात्र घायल

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में एक प्राइवेट कोचिंग सेंटर में बुधवार की दोपहर को एक रहस्यमयी विस्फोट हुआ। विस्फोट में कम से कम 16 छात्रों के घायल होने की असंका जताई ज आरही है। सभी घायल छात्रों को नजदीकी अस्पताल में भेजा गया। सुर्त्रो से मालूम पड़ रहा है कि पांच छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए है। विस्फोट इतना भयानक था कि अभी तक कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है कि कितने जान माल का नुकसान हुआ है। पुलिस ओर दमकल विभाग ने बहुत तेज़ी से प्रतिक्रिया दी। इस पूरे हात्से पर जांच चल रही है और शक्ति से कारवाही हो रही है। स्कूल ब्लास्ट मामले की जांच कर रही पुलिस टीम को वही के कुछ बदमाशों ने निशाना बनाया और उन्हों पर पथराव करना सुरु करदिया किया।
घटना कर्म का विवरण चित्र था, लेकिन पुलिस द्वारा सुरवाती जांच से पता चलता है। कि 10 वीं कक्षा के एक छात्र ने अपने स्कूल बैग में विस्फोटक सामग्री रखी थी और उसे वह स्कूल में लाया था। पुलिस का यह मानना है कि घायल हुए लोगों में से छात्र, रत्नीपोरा मुठभेड़ स्थल से विस्फोटक सामग्री ला सकता है, जो स्कूल बहुत नजदीक स्थित है।
pulwama bomb blast
घटना के बारे में जानकारी देते हुए, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कहा, की 01: 30 बजे नरबल, पुलवामा में प्राइवेट स्कूल की कक्षा के अंदर एक विस्फोट हुआ। 12 छात्रों को लगातार चोटें आई हैं, उनकी हालत ठीक बताई जा रही है। इनसभी हलातो को देखते हुए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक मामला दर्ज किया है और इस पर जांच जारी है। जम्मू-कश्मीर पुलिस का कहना है, विस्फोट स्थल से क्षतिग्रस्त फर्नीचर और खून से सना हुआ फर्श दिखा। पुलिस का यह भी मानना है कि संभव हो सकता की कुछ विस्फोट होने के बाद विस्फोटक वस्तु बंद हो गई थी। पुलवामा अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक अब्दुल रशीद पारा ने हमको बताया कि अधिकांश बच्चों को मामूली चोटें आईं थीं, जो सभव है कि भगदड़ से लगी होगी।
समाचार एजेंसी ANI को SSP पुलवामा के चंदन कोहली ने यह बताया कि एक प्राइवेट स्कूल में हुए विस्फोट में कुल 16 छात्र घायल हुए हैं। चंदन कोहली कहा कि घायल बच्चों की हालत ठीक है और FIR दर्ज कर ली गई है। सूत्रों के अनुसार सभी घायल छात्र पुलवामा के नारबल शहर के थे जो फलाह-ए-मिलत स्कूल के 10 वीं कक्षा के थे। नजदीकी अस्पताल में ले जाने के बाद, सभी छात्रों को श्री महाराजा हरी सिंह अस्पताल में भेजा जा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here