BCCI की शिफारिश को ICC ने किया खारिश, और बोली की यह हमारा काम नहीं है।

Image Source: ICC Cricket

ICC अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की दुबई में छह दिनों तक बैठक चली । जिसमे क्रिकेट से सम्बंधित कई मुद्दों पर चर्चा की गई। और कई बड़े फैसले लिए गए। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने आतंगवाद पर भी चर्चा की, जिसमे उन्होंने यह निर्णय लिया की जिस देश में आतंकवाद उत्पन्न हो रहा है, उन देशो से संबंद खत्म करने की कोई अवयस्कता नहीं है।  और भारत की  इस शिफरिश को ठुकरा दिया। और यह भी कहा की इस तरह के  मामलो में ICC की कोई  भाग्ये दारी नहीं होती।

BCCI ने ICC के सामने एक शिफारिश रखी थी जिसमे कहा गया था, की जो देश आतंगवाद को बढ़ावा देते है उनसे  संबंध तोड़ देने चाइये। लेकिन ICC ने इसके लिए बिलकुल इंकार कर दिया। पुलवामा आतंकी हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद BCCI ने ICC को पत्र लिखा था। जिसमे यह लिखा था की  आतंकियों को शरण देने वाले देशो से संबंध तोड़ने की शिफारिश की थी।ICC के चेयरमैन (Shashank Manohar) ने स्पष्ट कर दिया है की किसी भी देश का बहिष्कार नहीं किया जाये गा, और यह फैसला सरकार के स्तर पर किया जाना चाहिए, और ऐसा कोई नियम नहीं है। जिससे यह संभव हो सके। लेकिन BCCI इसके बावजूद एक कोसिस जरूर करके देखी।

Image Source: Sports Venue Business (SVB)

BCCI के पत्र में पाकिस्तान का नाम नहीं लिखा गया था। यह सभी उन देशो के लिए था जो आतंकवादियों को शरण देते है। इस बात को शशांक मनोहर ने आईसीसी की बोर्ड मीटिंग में उठाया। लेकिन इस पर ज्यादा गौर नहीं दिया गया। BCCI का प्रतिनिधित्व कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा की हम प्रतिबंद तो नहीं लगा सकते, और न ही इस पर कोई नियम बना है। लेकिन खिलाड़ियों की सुरक्षा को ध्यान मे रखा जायेगा, सुरक्षा को बिलकुल नज़रअंदाज नहीं किया जायेगा। इंडिया और पाकिस्तान का मैच 16 जून को होना है। पुलवामा हमले के बाद से ही भारत की और से मैच के बहिष्कार की मांग की जा रही है। और इस मुहीम में बहुत से बड़े खिलाड़िया ने भी समर्थन दिया था। जिसमें हरभजन सिंह और सौरव गांगुली भी शामिल थे। लेकिन अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है की भारत और पाकिस्तान का मैच होगा या नहीं। इस मामले पर देखते है की भारत सरकार क्या  फैसला लेती है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here