Guru Gobind Singh Jayanti 2021

Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 Guru Gobind Singh Jayanti 2021Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti Guru Gobind Singh JayantiRemove term: Guru Gobind Singh Guru Gobind SinghRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindi Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindiRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti in hindi Guru Gobind Singh Jayanti in hindiRemove term: Guru Gobind Singh in hindi Guru Gobind Singh in hindi
The Indian Express

Guru Gobind Singh Jayanti 2021– गुरु गोबिंद सिंह जी को महान स्वतंत्र सेनानी और कवी भी माना जाता है. इनके त्याग और वीरता की आज तक मिसाल दी जाती है. हिंदी केलेंडर के अनुसार पोष मॉस के सुक्ल पक्ष की सप्तमी तिथि को गोबिंद सिंह जी का जनम पटना शिब में हुआ. धरम की रक्षा करते हुए अपने पुरे परिवार का बलिदान कर देने वाले गुरु गोबिंद सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की. गुरु गोबिंद सिंह जी सीखो के 10 वे गुरु थे. आज के दिन सिख समुदाय के लोग पूजा-अर्चना करते है.

Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 Guru Gobind Singh Jayanti 2021Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti Guru Gobind Singh JayantiRemove term: Guru Gobind Singh Guru Gobind SinghRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindi Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindiRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti in hindi Guru Gobind Singh Jayanti in hindiRemove term: Guru Gobind Singh in hindi Guru Gobind Singh in hindi
News Track English

 

गुरु गोबिंद सिंह जी के पिता का नाम गुरु तेग बहादुर और माता का नाम गुजरी था. वह उनके एक मात्र पुत्र थे. जिस समय गुरु साहिब का जन्म हुआ उस समय गुरु तेग बहादुर साहिब बंगाल व् आसाम की यात्रा पर थे. आज के दिन सिख समुदाय के लोग एक दुसरे को सुभकामनाये देते है. इस दिन गुरद्वारो को सजाया जाता है. गुरु गोबिंद सिंह जी के लिए यह सब्द इस्तेमाल किये जाते है. “सवा लाख से एक लड़ांऊ” उनके अनुसार सक्ति और वीरता के संदभ में उनका एक सिख सवा लाख लोगो के बराबर है.

Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 Guru Gobind Singh Jayanti 2021Remove term: Guru Gobind Singh Jayanti Guru Gobind Singh JayantiRemove term: Guru Gobind Singh Guru Gobind SinghRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindi Guru Gobind Singh Jayanti 2021 in hindiRemove term: Guru Gobind Singh Jayanti in hindi Guru Gobind Singh Jayanti in hindiRemove term: Guru Gobind Singh in hindi Guru Gobind Singh in hindi
Latest News Headlines

गुरूजी बचपन में दोस्तों की दो टोली बनाकर लड़ाई करते और किले बनाते थे. वे दोस्तों को विजय प्राप्त करने के गुर बताते थे. जब लड़के सेना और युद्दो की नक़ल उतारते तो गोविन्द सेनापति या राजा बनते थे. वे न्यायलय की नक़ल उतारते और लडको के मामले को सुनकर उनका न्याय करते थे. बताते है के गुरूजी ने एक बार खेल-खेल में एक बार गंगा में अपने कंगन फेके थे, लोग जब गंगा से कंगन निकालने गए तो चारो और कंगन ही कंगन देख कर आश्चर्यचकित रह गए. माझी जब गंगा से कंगन निकालने गए तो ढेर सारे कंगन देखा तब गुरु महाराज ने माझी से दूसरा कंगन निकालने से मना कर दिया. तब गोविन्द ने कहा गंगा हमारी तिजोरी है.

Prabhat Khabar
Prabhat Khabar

इसी घाट पर गुरूजी ने पंडित सिव्दत शर्मा को मानसिक शांति का वरदान भी दिया था. वे गुलेल से निशाना लगाने का खुद अभ्यास करते और मित्रो को भी करवाते. जब महिलाये खली घड़े सिरों पर उठाकर कुआ और नदियों पर पानी भरने जाते तो वह घड़े पर निशाना लगाने से नहीं चुकते थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here