Saina Movie Review | Saina Movie Review in Hindi

Saina Movie Review: पोस्टर और लुक पर खड़ा हुआ विवाद.

Saina Movie Review
Jammu metro

Saina Movie Review– साइना एक स्पोर्ट्स फिल्म है. पूरी दुनिया में अपना नाम कर चुक्की बेडमिन्टन खिलाड़ी साइना नेहवाल पर आधारित साइना फिल्म साइना नेहवाल की बायोपिक फिल्म है. इस फिल्म में साइना की जिन्दगी में हुए उतार-चड़ाव को दिखाया गया है. केसे उन्होंने सन्घर्ष करते हुए तमाम मुस्किलो का सामना किया. और दुनिया की नंबर वन खिलाडी बनी. इस फिल्म में साइना का किरदार बॉलीवुड की जानी मानी एक्ट्रेस परिणिति चोपड़ा निभा रही है. इस फिल्म की घोषणा जब से हुई है, फेंस को वही इस फिल्म का काफी बेसब्री से इन्तजार है. बता दे के इस फिल्म के ट्रेलर को फेंस ने काफी पसंद किया था.

आइये आपको बताते है की आखिर इस फिल्म की कहानी क्या है. यह कहानी सुरु होती है भारत के हरियाणा से. हरियाणा के हरवीर सिंह नेहवाल और उषा रानी नेहवाल की बेटी साइना नेहवाल की यह कहानी. साइना ने 2015 में इतिहास रच दिया था. साइना के घरवाले उनको एक बहुत बड़ा बेडमिन्टन खिलाड़ी बनाना चाहते थे. इसके लिए उनके माता पिता खुद बेटी के साथ काफी मेहनत किया करते थे. फिल्म में हर उस पल को दिखया गया है जिसको साइना ने अपने जीवन में देखा है. जिस पल को साइना ने अपनी जिन्दगी में फेस किया है. फिल्म में दिखया गया है के जिन्दगी में कितने उतार-चड़ाव आये उन्होंने कितने संघर्ष किये और दुनिया की नंबर वन खिलाडी बनी.

परिणिति ने इस फिल्म में काफी अच्छा काम किया है. अमोल गुप्ते के लिए सबसे मुस्किल काम था. साइना नेहवाल की कहानी को सहज तरीके से इंटरटेनिंग बनाना. क्युकी साइना की जिन्दगी से कोई खास विवाद नहीं जुड़ा है. साइना बचपन से ही एक विनर की तरह पली बढ़ी है. साइना फिल्म दर्शको को काफी पसंद आने वाली है. इस फिल्म की स्टोरी कही-कही पर धीमे पड़ सकती है, और कमजोर पड़ सकती है. लेकिन इस फिल्म को छोड़ने का मन फिर भी नहीं करेगा. आप थियेटर से अपनी शीट को छोड़ ही नहीं पाओगे. परिणीति की एक्टिंग आपका दिल जीतने वाली है. परेश रावल, मानव कौल, मेघना मलिक, अंकुर विकाल ने भी अपनी गहरी छाप फिल्म में छोड़ी है.

साइना नेहवाल बायो

Saina Movie Review
Scroll.in

साइना नेहवाल का जन्म 17 मार्च 1990 को हरियाणा के हिसार में हुआ था. साइना भारतीय बेडमिन्टन खिलाडी है. वह एक महीने में तीसरी बार प्रथम वरीयता पाने वाली अकेली महिला खिलाडी है. साइना भारत सरकार द्वारा पद्म श्री और सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित हो चुकीं हैं. उनका विवाह बैडमिंटन खिलाड़ी पी॰ कश्यप से हुआ है. वर्तमान में वह शीर्ष महिला भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं, और भारतीय बैडमिंटन लीग में अवध वॉरियर्स की तरफ़ से खेलती हैं. साइना अब तक कई बड़ी उपलब्धिया अपने नाम कर चुक्की है.

ओलेम्पिक खेलो में महिला एकल बेडमिन्टन का कस्य पदक जीतने वाली वह देश की पहली महिला खिलाडी है. उन्होंने 2006 में एशियाई सेटलाइट परतियोगिता भी जीती है. उन्होंने 2009 में इंडोनेसिया ओपन जीतते हुए सुपर सीरिज बेडमिन्टन परतियोगिता का ख़िताब अपने नाम किया था. यह उपलब्धि उनसे पहले किसी महिला खिलाडी को हासिल नहीं थी.

दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल खेल में उन्होंने स्वर्ण पदक हासिल किया. वर्ष 2015 में नई दिल्ली को योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में विश्व चैम्पियन जापान की युई हाशिमोतो को 44 मिनट में 21-15,21-11 से हराने के साथ ही दुनिया की शीर्ष वरीय खिलाड़ी बनी और फाइनल मैच में थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन को हराकर 29 मार्च 2015 को योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट की महिला एकल ख़िताब की विजेता बनीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here