1 जुलाई से बदलने जा रहे हैं SBI के नियम, करोड़ों ग्राहकों को मिलेगा लाभ

Image Source: Newsd

अगर आप भी भारत के सबसे बड़े सरकारी बैंक ऑफ इंडिया SBI के ग्राहक है, तो यह आपके लिए भूत महत्वपूर्ण खबर है। दरअसल एसबीआई 1 जुलाई से अपने नियमों में बदलाव करने जा रहा है इन नियमों के बदलने से इसका सीधा असर एसबीआई के 42 करोड़ ग्राहकों पर पड़ेगा चलिए जानते हैं किन-किन नियमों में बदलाव करने वाला हैं। एसबीआई की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 1 जुलाई से रेपो रेट से जुड़े होम लोन ऑफर की जाएंगे। इससे यह स्पष्ट होता है कि आने वाले दिनों में ब्याज दर होम लोन की ब्याज दर पूरी तरह रेपो रेट पर आधारित होगी। आप को समझाने के लिए हम इसे आसाम भाषा में बताते हैं। दरअसल रिजर्व बैंक जब-जब रेपो रेट में फेरबदल करेगा। उसी के आधार पर एसबीआई की ब्याज दर तय की जाएगी। वर्तमान समय में आरबीआई के रेपो रेट के बदलाव के बाद एसबीआई अपने हिसाब से होम लोन पर ब्याज दरों में कटौती या बढ़ोतरी करता है। बीते दिनों गुरुवार को आरबीआई ने लगातार तीसरी बार रेपो रेट में 0.25 प्रतिशत की कटौती कर इसे 5.75 पर ला दिया है।

आरबीआई ने बीते छह महीनों में लगातार तीन बार रेपो रेट में कटौती करी है। दिसंबर से लेकर अब तक रेपो रेट में कुल 0.75 प्रतिशत की कटौती की जा चुकी है। आने वाले दिनों में होम लोन लगातार सस्ता होगा। जिसका सीधे तौर पर फायदा देश की जनता को होने वाला है। अगर रेपो रेट में किसी प्रकार का कोई बदलाव नहीं आता तो एसबीआई होम लोन की ब्याज दरें स्थिर रहगी।

Image Source: indiatoday.in

 

रेपो रेट क्या होता है

रेपो रेट वह दर होती है, जिस पर बैंकों को आरबीआई कर देती है। इसी के आधार पर सभी बैंक अपने ग्राहकों को कर्जा यानी लोन देती है। अगर आरबीआई कम रेपो रेट बैंकों को पैसा देती है। तो लोन की दरें सस्ती हो जाती है। बाजार से जुड़ी लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here