तमिलनाडु के तिरूचिरापल्ली में मंदिर में मची भगदड़, 7 भक्तों की मृत्यु और 10 लोग घायल

Image Source: Patrika

तमिलनाडु में स्थित मुथियमपलयम गांव के एक मंदिर में कल एक वार्षिक उत्सव आयोजित किया गया था, जिसमे अचानक भगदड़ मच गई, जिसके वजह से मंदिर में 7 श्रद्धालुओं की मृत्यु हो गई। इसके अलावा इस भगदड़ में 10 अन्य श्रद्धालु घायल हो गया है। आपको बता दे की यह हादसा तिरूचिरापल्ली से नजदीक 45 किलोमीटर दूर थुरअयूर के पास के एक मंदिर में हुआ हैं। मरने वाले 7 श्रद्धालुओं में से 4 महिलाएं भी थीं। मंदिर के लोगो ने मीडिया को बताया की हर वर्ष मंदिर में यह उतस्व आयोजित किया जाता है, जिसमे बहुत बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते है। पूजा के दौरान पुजारी श्रद्धालुओं को सिक्के बांट रहे थे, तभी सिक्का लेने की होड़ में श्रद्धालुओं के बीच भगदड़ मच गई। भगदड़ इतनी ज्यादा थी की जिसमे 4 महिलाएं समेत 3 अन्य लोगों की मृत्यु हो गई। कई अन्य लोग घायल हो गए। मंदिर के एक अधिकारी मीडिया को बताया की, मंदिर में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कोई सुविन नहीं की गई थी। ना ही प्रशासन की ओर से पर्याप्त सुरक्षाकर्मी दिए गए थे।

तमिलनाडु के इस मंदिर हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दुख जताया। मोदी ने दो ट्वीट किये, दुख जाहिर करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा कि, तिरूचिरापल्ली में एक मंदिर में भगदड़ के कारण लोगों की जान चली गई। उन लोगों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदना और घायल लोगों के साथ प्रार्थना। अधिकारियों द्वारा हर संभव मदद की जा रही है। दूसरे ट्वीट में मोदी ने लिखा की, हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि, जबकि घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे।

मंदिर में सभी 7 मृतकों की पहचान कर ली गई है। 50 वर्षीय शांति, 38 वर्षीय एस गंधाई, 50 वर्षीय वी पूनगवनम, 35 वर्षीय आर वल्ली, 60 वर्षीय आर लक्ष्मीकांतन, 55 वर्षीय के रजावेल और 50 वर्षीय रमार।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here