ईरानी कप 2019 में विदर्भ लगातार दूसरी बार जीता ईरानी कप का खिताब

विदर्भ टीम का उत्शा देखने वाला है। लगातार दूसरा रणजी ट्रॉफी खिताब जीतकर यह साबित करदिया यह ,यह मैच  नागपुर में खेला जा रहा था। विदर्भ टीम ने पहले मैच में ही भड़त बना ली थी , इस लिए विदर्भ टीम यह मुकाबला जीत सकी। आखिर कर दूसरी बार ईरान कप अपना कब्जा जमा लिया। इस मैच में  इंडिया  ने पहले बल्लेबाजी करते हुए ,संदर खेल का प्र्दशन दिखाया।हनुमा विहारी ने अपनी पारी में  शतक जड़ा और  (114 रन) मारे। और बल्लेबाज मयंक अग्रवाल की 95 रनों की पार्टनर शिप की मदद से 330 रन बनाए। इसके जवाब में विदर्भ की टीम 425 रन पर पूरी टीम सिमट गई।अक्षय वाडकर ने (73 रन)  लगाए।
अक्षय कर्णवार ने (102 रन) पर  शानदार शतकीय पारी खेली। संजय रघुनाथ ने (65 रन) बनाकर हाफ सेंचुरी अपने नाम की। इस खेल की वजह से विदर्भ पहले मैच  में  95 रनों आगे रह। दूसरे मैच  में बहुत शानदार खेल दिखाया। हनुमा विहारी ने अपना शानदार खेल जारी रखा और अपनी फॉर्म को भी। हनुमा विहारी ने 180 रनों की बेजोड़ पारी खेली। कप्तान अजिंक्ये रहाणे ने (87 रन) की पारी खेली और हाफ सेंचुरी बनाने में सफल हुए। और श्रेयस अय्यर(61 रन) बनाये।  रेस्ट ऑफ इंडिया ने 374/3 रन बनाकर अपनी पारी समाप्त की और विदर्भ के सामने 279 रन बनाए।  इन रनो का पीछा करने में  टीम विदर्भ को कोई परेशानी नहीं हुई। क्युकि विदर्भ टीम  सुरवाब बहुत बहतरीन हुई थी।
vidarbha
इस मैच को जीतने के बाद विदर्भ  टीम के कप्तान फैज फज़ल ने टीम की ओर यह घोषणा की जीती गई हुई राशि को टीम सहीदो को अर्पित करेगी। जिससे उनके परिवारों को कुछ सहुलियत मिल सके। यह हमारा एक छोटा सा कदम है। विदर्भ टीम के कप्तान ने कहा की  हमारी टीम की ये इच्छा है कि वो पुलवामा में देश के लिए शहीद हुए जवानों के परिवार को जीती हुई राशि दे।  हम चाकर  भी शहीदो को कर्ज नहीं चूका सकते। क्युकी इसका कोई मोल नहीं है।  लेकिन  हम उन परिवारों  और उन शहीदों के लिए इतनी ही दुआ करते हैं कि ईश्वर उन्हें शक्ति दे। कर्नाटक और मुंबई के बाद विदर्भ तीसरी ऐसी टीम बन गई है।  जिसने लगातार दो बार  ईरानी कप का खिताब अपने नाम किया है। जो टीम के लिए और खिलाड़ियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। इस सिरज के दौरान हनुमा लगातार 3 शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here