छत्तीसगढ़ में नक्सलियों से हुई मुठभेड़, BSF के चार जवान शहीद, 2 घायल

Image Source: Himachal Abhi Abhi

छत्तीसगढ़ कांकरे के नक्सलियों और बीएसएफ के जवानो के बिच आज दोपहर 11.45 बजे शुरू हुई थी, छत्तीसगढ़  के नक्सलियों के द्वारा बीएसएफ की 114 बटालियन को निशाना बनाया गया है। इलाके को चारों ओर से घेर लिया गया है। इस मुठभेड़ में भारतीय सेक्युर्टी फोर्स के चार जवान शहीद हो गए। इसी दौरान  जिले के पखांजुर क्षेत्र में भारतीय सेक्युर्टी फोर्स के दो जवान इस मुठभेड़गंभीर रूप से घायल हो गए है। सूत्रों के मुताबिक भारतीय सेक्युर्टी फोर्स को  पखांजुर इलाके में संदिग्ध गतिविधियों का पता चला था जिसके बाद बीएसएफ तलाशी अभियान चलाया था, इसी समय नक्सलियों ने भारतीय सेक्युर्टी फोर्स के जवानो पर गोलीबारी करना शुरू कर दी। यह पूरी वारदात प्रतापपुर थाना क्षेत्र के मोहल्ला गांव के नज़दीक जंगलो में हुई थी। बीएसएफ के सभी घायल जवानो को नज़दीकी  इलाके के हस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया है। जानकारी के मुताबिक जवानों की बैकअप टीम को घटनास्थल पर पहले ही रवाना कर दिया गया था।

आपको  बता दे की इन कुछ महीनों में नक्सलियों ने कई हमले किए हैं। इन नक्सलियों ने छोटे बच्चे या सरकारी नागरिक सभी को अपना निशाना बना रह है। आज से पहले नक्सलियोने ने होली पर छत्तीसगढ़ के आम नागरिको को निशाना बनाया था। और अब नक्सलियों नेIED ब्लास्ट कर वाहन को उड़ा दिया था। इस हमले में लगभग 9 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। आपको बता दे की इससे पहले भी 18 मार्च को दंतेवाड़ा में भी नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर जवानों को निशाना बनाया था। इस हमले में भी एक जवान शहीद हो गया था।

Image Source: सत्याग्रह

नक्सली ऐसा क्यों करते है जानते है ?

नक्सली दरसल देश के ही नागरिक होते है, लेकिन यह सराकर के विरोध में होते है।  यह कभी लोकतंत्र को स्वीकार नहीं करते। इसी के चलते यह ऐसे बड़े हमले करते है। ऐसे संघठन चुनाव के समय अधिक सक्रिय हो जाते है, और मतदाताओं को बोलते है की कोई मतदान नहीं करेगा। नक्सली अकसर चुनावो में बध्दता डालने की कोसिस करते है। इनके चलते भारतीय सेना को इनपर कड़ी नज़र बनाई रखनी पड़ती है। नक्सली हमेसा घात लगा कर हमला करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here