भारत के जवानो को मिलेगी सबसे खतरनाक असाल्ट राइफल AK-203.

AK-203, India, Indian Soldiers
Image Source: Bansal News

भारत सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए, सेना को मजबूत करने के लिए  AK-203 राइफल को सेना में भर्ती करने का निर्णय लिया है। अभी भारत और पाकिस्तान के बिच बड़ा तनाव वाला माहौल है। भारतीय सेना को AK-47 राइफल का आधुनिक वर्जन AK–203 से लैश किया जाएगा। इसके लिए भारत और रूस के बिच समझौता हुआ है। इस समझौते  के अनुसार भारत को रूस की तरफ से सात लाख 50 हजार AK–203 असाल्ट राइफल मिलेगी। AK-203 असॉल्ट राइफलों के लिए ओएफबी और रूसी कंपनी कंसर्न क्लानिश्नकोव के बीच रक्षा सौदे पर समझौता हुआ है। भारत और रूस की कम्पनियो ने इसे मिल कर बनाया है। इंसास राइफल को बदल दिया जाएगा और इसकी जगह भारतीय जवानों को AK -203 असॉल्ट राइफलें दी जाएगी।

source:  modernfirearms.net

 

रूस ने भारत की सेना के लिए पहले भी AK-47 राइफल के नए वर्जन की पेशकश की थी। उस समय बात नहीं बन पाई थी और जबसे इस पर कुछ पका फैसला नहीं हुआ था, लेकिन अब इसको मंजूरी मिल गई है। भारत की ओर से  डील पक्की करदी गई है।  AK-203 असॉल्ट राइफल एक साल पुराना मॉडल है, जिसे 2018 में बनाया गया था।  AK-203 असॉल्ट राइफल AK सांखला की सबसे खतरनाक राइफल है। जिससे दुसमन के होश उड़ जायेगे। आपको बता दे की इससे पहले भारत ने अमेरिका के साथ भी एक समझौता किया था, जिसमे 72,400 असॉल्ट राइफलें खरीदने की डील हुई थी। इसकी कुल कीमत 700 करोड़ रुपये परखी गई थी। यह सभी राइफलें भारत को अमेरिका तकरीबन एक साल के अंदर दे देगी। इन राइफलो के मिलने से भारतीय सेना का बल और मनोबल दोनों भड़े गा। यह सभी राइफल भारत को एक साल के भीतर अमेरिका की सिग सौयर कंपनी 7.62 MM  की 72,400 राइफलें सौपेगी।

फिलाल भारतीय सेना के पास अभी  5.56 गुणा 45 MM इंसास राइफलें मौजूद हैं। इससे बदला आवश्य्क हो गया था, क्युकी इससे बहुत लम्बे समय से इस्तमाल किया जा रहा था। आधुनिकी और  उन्नत तकनीक वाली 7.62 गुणा 51 एमएम राइफल से बदलना जरूरी हो गया था। इनका इस्तमाल चीन के बॉर्डर पर किया जायेगा, जिसकी लम्बाई 3,600 किलोमीटर है

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here