Lockdown in Delhi | दिल्ली में बढ़ सकता है, एक सप्ताह का लॉकडाउन

Lockdown in Delhi: बढेगा या ख़तम होगा लॉकडाउन जानिये.

Lockdown in Delhi
India TV

Lockdown in Delhi– भारत देश के राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए दिल्ली में कुछ पाबंदियो को बढाया जा सकता है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने 19 अप्रैल को 6 दिन के लॉकडाउन का ऐलान किया था. जो की सोमवार को सुबह पांच बजे तक के लिए लागु किया था. इस एक हफ्ते के लॉकडाउन से दिल्ली में बढ़ रहे मामलो में कोई फरक नहीं आया है, वल्कि मामले और बढ़ ही रहे है. उल्टा ओक्सीजन की कमी के कारण पिछले पांच दिनों में 1500 से जायदा मौते हुई है.

ऐसे में लॉकडाउन को बढ़ाने की जयादा सम्भावना जताई जा रही है. दिल्ली सरकार के सूत्रों से लॉकडाउन को लेकर जानकारी देते हुए कहा के छोटी अवधि का लॉकडाउन का मकसद मामलो की संख्या को काबू करने के साथ ही स्वस्थ्य दांचे को मजबूती देने के लिए समय हासिल करना था. लॉकडाउन लगाने से पहले लागु किये गये नाईट कर्फ्यू के दोरान भी यह बात लगभग स्पष्ट हो गयी थी. के जब तक लोग बे वजह अपने घरो से बहार निकालने पर रोक नहीं लगायेंगे तब तक यह संकर्मन काबू में नहीं आएगा.

Lockdown in Delhi
DNA India

इस को रोकने में अगर हमको जीत हासिल करनी है तो लोगो को यह बात सोचनी पड़ेगी के बेवजह घरो से बहार नहीं निकला जाये और हमेशा मास्क का इस्तेमाल किया जाये. और सोशल दिस्तेंसिंग का पालन किया जाये तभी हम इस वायरस से लड़ पाएंगे और जीत भी पाएंगे. दिल्ली में कोरोना वायरस के वजह से एक दिन में 357 लोगो की मौत हुई है. इस लॉकडाउन के बाद प्रवासी मजदूरों में खलबली मच गई थी और वे बस स्टैंडों और रेलवे स्टेशन पर अपने घर जाने के लिए पहुंच रहे थे.

संक्रमण की कड़ी को तोड़ने और स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करने के लिए दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन लागू किया है. पिछले 24 घंटे के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में उपचाराधीन मामलों की संख्या एक लाख के करीब पहुंच रही है. राष्ट्रीय राजधानी में अभी 93,080 उपचाराधीन मामले हैं. बुलेटिन में कहा गया है कि 22,695 मरीज संक्रमण से ठीक हुए हैं. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में 74,702 सैंपल्‍स की जांच की गई और 35,455 लोगों को कोविड-19 टीका लगाया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here