राहुल गांधी ने आतंक के लीडर मसूद को जी करके बोला, बीजेपी ने लिया आड़े हाथ

Image Source; Overlook

आज देश के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले वीर जवानों का अपमान हुआ है। उन 40 शहीद हुए जवानों की आत्मा को चोट पहुँचाई गई है। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी ने भारत के सुरक्षा बालों के हौसले पर हमला किया है। जिस आतंकी ने पुलवामा और पठान कोट में हमला किया हो और भारत की संसद पर हमला किया हो उस आतंकवादी को जी करके के सम्मानित किया यह किसी अपराध से काम नहीं है। लेकिन राहुल गाँधी ने आज यही काम किया है। लोग अब यह कह रह है की यह सब राजनीति और वोट पाने के लिए किया जा रहा है। देश में यह एक परंपरा बन गए है की हर आतंकवादी और आतंक हमले को राजनीतिक मुद्दा बना दिया जाता है। हर आतंकी हमले पर राजनीतिक की जाती है। पुलवामा और बालाकोट  में जो हमला हुआ उस पर  भी राजनीति की गई थी। 20 साल पहले 1999 में जो कांधार हाईजैक हुआ था, उस मुद्दे पर आज भी राजनीती की जाती है। यह सब वोट बैंक के लिए किया जाता है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार को  जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अज़हर  को कुछ  वर्षों पहले भारतीय जेल से छोड़े जाने को लेकर भाजपा पर तंज कसते हुए सोमवार को इस आतंकी के लिए जी शब्द लगाकर संबोधित किया। बीजेपी ने मौके का फायदा उठाते हुए राहुल को आड़े हाथ लिया और बोला की राहुल को आतंकवादियों से प्रेम है। अपनी सफाई में कांग्रेस ने बोला की राहुल गांधी ने कटाक्ष करते हुए इस आतंकी के लिए जी शब्द से सम्मानित किया। लेकिन बीजेपी और मीडिया इससे जानबूझकर इसे मुद्दा बना रही है। बात को ज्यादा घूमा फिरा के बताया जा रहा है।

बीजेपी ने अपने ट्विटर एकाउंट पर ‘हैशटैग राहुल लव्स टेररिस्ट’ के साथ कहा कि ‘देश के 44 वीर जवानों की शहादत के लिए जिम्मेदार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना के लिए राहुल गांधी के मन में इतना सम्मान। इसी ट्वीट के साथ उनका वीडियो भी शेयर किया। अब इसने एक बहस का रूप ले लिया है। दोनों पार्टी की और से ट्वीट किये जा  रह है। कही ना कही बीजेपी भी इसमें फस्ती नज़र आ रही है।  अब देखा जाये गा की यह मामला कहा तक जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here