सऊदी अरब अरामको कंपनी ने कमाई के मामले में एप्पल कंपनी को पीछे छोड़ा, पांच खास बाते

सऊदी अरब की अरामको कंपनी ने साल 2018 में कमाई के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए है। यह कंपनी विश्व की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली कंपनी बना गई है। इससे पहले अमेरिका की एप्पल कंपनी थी, जो विश्व की सबसे अधिक कमाई करती थी। सऊदी अरब की अरामको कंपनी की 2018 में कुल कमाई 111.1 अरब डॉलर (7.66 लाख करोड़ रुपये) है। अब सवाल यह उठता है की इतनी कमाई करने वाली यह कंपनी इससे पहले सुर्खियों में क्यों नही आई, आपको बता दे की इसका मुख्य कारण यह रहा की कंपनी किसी स्टॉक एक्सजेंच में रजिस्टर नहीं थी, लेकिन  पिछले साल यह कंपनी IPO (Initial public offering) जारी करने वाली थी।

आइये जानते है कंपनी की पांच खास बाते 

  1. सऊदी अरब की अरामको कंपनी को विश्व की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी है, बताया जाता है, की सऊदी अरामको की कमाई एप्पल की कमाई से भी अधिक है। अल्फाबेट और एग्जॉन से भी अधिक है। आपको बता दे की एग्जॉन मोबिल अमेरिका की सबसे बड़ी तेल तेल कंपनी है। आकड़ो के मुताबिक  साल 2018 में इस कंपनी की कुल कमाई 21 बिलियन थी, मतलब 102 अरब डॉलर, जो मुनाफा के मामले में एप्पपल से 46 फीसदी अधिक था। एप्पल की 2018 में कुल कमाई 59.5 अरब डॉलर रही थी।
  2. सऊदी अरब की अरामको कंपनी के पास विश्व के कई बड़े तेल भण्डार है, यह सभी तेल भण्डार कंपनी को कम कीमत पर मीले थे। कंपनी ने सरकार को  इन तेल के भण्डार को 160 अरब डॉलर में ख़रीदा था।  क्राउन प्रिंस सलमान चाहते  थे की अरामको कंपनी 2  ट्रिलियन डॉलर की कंपनी बने, आपको बता दे की भारत की कुल अर्थव्यवस्था पांच ट्रिलियन डॉलर की है, तो आप अंदाजा लगा सकते है की उनका उदेश्य कितना बड़ा है।

    Image Source: World News Arabia
  3. इस साल सऊदी अरामको कंपनी ने पहली बार अपनी कुल कमाई की घोषणा खुले में की है। कंपनी की ओर से जारी किए गए वित्तीय नतीजों के अनुसार 2018 में अरामको का कुल रेवेन्यू 355.9 अरब डॉलर का रहा। दिसंबर 2018 के अंत तक इस कंपनी के पास 48.8 अरब डॉलर की नकदी थी।
  4. कंपनी के भविष्ये में क्या प्लान्स है, कंपनी ने एक प्लैन बनाया है। जिसके मुताबिक प्लान बॉन्ड को बेचकर 10 अरब डॉलर जुटाना है। बता दे की  सऊदी अरब सरकार के लिए यह कंपनी की आय का बड़ा जरिया है, सऊदी अरब देश का 100% टैक्स में से 50% टेक्स सऊदी अरामको कंपनी देती है। जो देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण बात है। 2015-2017 तक देश का 70 फीसदी रेवेन्यू इसी कंपनी ने दिया था।
  5. आज पुरे विश्व में इस कंपनी की कमाई की चर्चा हो रही है। इस कंपनी की शुरुआत अमरीकी तेल कंपनी ने की थी। अमरीकन ऑइल कंपनी’ का सऊदी अरब ने 1970 के दशक में राष्ट्रीयकरण कर दिया था। सऊदी अरब की अरामको कंपनी पारदर्शिता के मामले में कई विवादों में भी रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here