IND vs AUS: किन 5 कारणों से सीरिज़ में हारी टीम इंडिया

Image Source; The Indian Express

इंडिया और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरिज़ का फाइनल दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान, 2-2 की बराबरी के बाद इस फाइनल में इंडिया ऐसी खेली, जैसे की फाइनल है ही नहीं भारतीय टीम मैच साथ साथ सीरिज़ भी हार गई। दो एक से सीरिज़ आगे होने के बावजूद इंडिया टीम सिरीज़ 2-3 से हार गई। मतलब आखिरी तीन मैच ऑस्ट्रेलिया की टीम यह मैच जीत गई, दिल्ली में भारतीय टीम को 35 रनों से हार का सामना  करना पड़ा। वर्ल्ड  कप से पहले इंडिया टीम को हार दिखा कर आईना दिखा कर गई है। पहली बार ऐसा  की इंडिया  अपने घर में खेलते हुए 2-0 से आगे होने के बावजूद सिरीज़ 3-0 से हारी हो।

किन 5 कारणों से सीरिज़ में हारी टीम इंडिया ?

  1. इंडिया  हार की सबसे बड़ी वजह और पहली वजह यह थी की इंडिया टीम ने 273 के टारगेट को हल्के में लिया था। इंडिया टीम ने वो जोश नहीं दिखाया जो इंडिया जैसी बड़ी टीम से दिख नी  चाहिये था। रोहित शर्मा और शेखर धवन बल्लेबाजी करने आयें, और धवन 12 रन बना कर आउट हो गए सारी ज़िम्मेदारी रोहित शर्मा पर आ गई। लेकिन रोहित का पहले वाला खेल देखने को नहीं मिला रोहित ने 89 बोलो पर 56 रन ज़रूर बनाए, परन्तु यह बहुत ख़राब पारी थी। दो बार उन्हें जीवन दान भी मिला था, पहले दो बार कैच आउट होने से बचे थे। इससे भी सिख नहीं ली रोहित ने और आख़िर कर आउट हो गए।
  2.  बहुत समय से देखा जा रहा की विराट, धवन, रिषभ पंत घरेलू मैदान पर रन नहीं बना रह और ऐसा इस बार भी देखा गया। धवन ने 12 रन बनाए, विराट ने 20 और रिषभ पंत ने 16 इस मैच में रिषभ पंत को चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी के लिए भेजा गया था, रिषभ पंत को मैच में साबित करना चाहिये था। लेकिन वह ऐसा कुछ नहीं कर सके, एक आसान सा कैच दे दिया और आउट हो गए, और अपना विकेट गवा दिया।
  3.  अब तक अपने आप को बढ़िया और जुझारू साबित कर चुके विजय शंकर, इसने कुछ उम्मीद थी की यह फाइनल ने मच खास करेंगे। लेकिन सब उल्टा ही हुआ, विजय शंकर ने एक आसान सा कैच दे दिया और आउट हो गये, इंडिया की ओर से कोई अच्छी साझेदारी देखने को नहीं मिली जिसके वजह से भारत को हर का मु देखना पड़ा।
  4. भारत की हार की एक वजह रविंदर जड़ेजा भी रह, 39 ओवर बीत चुके थे और स्कोर बोर्ड पर 5 विकेट खो कर 132 का स्कोर था। रविंदर जड़ेजा स्टम्प आउट हो गए और 0 का स्कोर रहा, सिर्फ तीन गेंदे खेल सके। इंडिया का स्कोर 6 विकेट हो गया।
  5. केदार जाधव और भुवनेश्वर कुमार बचे थे, 40 ओवरों में 180 रन बने थे और आस्किंग रेट 10 से भी ऊपर जा चुका था मतलब आखिरी 9 ओवरों में 91 रन चाहिये थे। पहले दोनों को बीच 91 रन की साझेदारी हुई। और इसी तरह 43 ओवर में स्कोर 200 से पार चले गया।

इन ही कारणों से इंडिया यह मैच और सीरिज़ 35 रनों से हार गई, इंडिया के लिए इस मैच में कुछ अच्छा रहा तो वो केदार जाधव और भुवनेश्वर कुमार पार्टनर शिप। इन दोनों के अलावा इंडिया बहुत खराब खेली और मैच के साथ सिरीज़ भी हारी। वर्ल्ड कप से पहले T-20 सिरीज़ और अब वनडे सिरीज़ हार इंडिया के लिए बड़ी चिंता का विषय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here