राहुल गांधी के जूते वाले बयान पर बोली सुषमा स्वराज, की भाषाई मर्यादा का ध्यान रखे

Image Source: Quint Hindi

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में लाल कृष्ण आडवाणी पर एक टिप्पणी कर दी थी, जिसके जवाब में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपनी भाषा की मान मर्यादा का ध्यान रखना चाइये था, दरसल राहुल गांधी ने एक बयान दिया था जिसमे कहा गया था की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने गुरु लाल कृष्ण आडवाणी को जूता मारकर स्टेज से नीचे उतार दिया। जसिके बाद से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज  को भेहद बुरा लगा था, जिसके बाद आज उन्होंने हिंदी और अंग्रेजी में एक ट्वीट किया, जिसमे कहा गया की मुझे  राहुल गांधी के इस बयान से बहुत आहत पहुंची है। राहुल गांधी को अपनी भाषा पर नियत्रण रखना चाइये था। इससे पहले किसी भी बीजेपी कार्यकर्ता इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी थी, सुषमा स्वराज ने सबसे पहले इस बयान प्रतिक्रिया दी है। सुषमा स्वराज ने कहा की राहुल जी- आडवाणी जी हमारे पिता तुल्य हैं। आपके बयान ने हमें बहुत आहत किया है। कृपया भाषा की मर्यादा रखने की कोशिश करें।

आपको बता दे की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बड़ा आरोप लगाया था, और कहा था की नरेंद्र मोदी किसी भी जगह जाते है, वहा किसी न किसी व्यक्ति की बुराई करते है। प्रधानमंत्री के  गुरु कौन हैं? आडवाणी जी, गुरु के सामने शिष्य प्रणाम भी नहीं करता। स्टेज से उठा कर फेंक दिया आडवाणी जी को, और आडवाणी को जुते मार के स्टेज से उतार देना चाइये और  हिन्दू धर्म की बात करते हैं। इसके आलावा राहुल ने कहा की हिन्दू धर्म में कहा लिखा है की लोगों को मारना चाहिए। हिन्दू धर्म में सबसे बड़ी चीज क्या होती है, गुरु और शिष्य का रिश्ता  लेकिन आज आडवाणी के क्या हलात है। आज नरेंद्र मोदी आडवाणी से नमस्ते तक नहीं करते है। राहुल गांधी इस भाषण में पुलवामा का जिक्र भी किया।

Image Source: The Indian Wire

आपको बता दे की इस बार आडवाणी को भारतीय जनता पार्टी की और से गांधीनगर की टिकट नहीं दी गई है। जबकि आडवाणी गांधीनगर से 6 बार जीते है। आडवाणी के जगह इस बार भारतीय जनता पार्टी गांधीनगर से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को चुनाव में उतारेगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here